Category: सेहत

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने किया सबका संदेश डॉट कॉम विमोचन

सबका संदेश न्यूज
sabkasandesh.com

आज दिनांक 18 मार्च 2018 को सबका संदेश डॉट कॉम का विमोचन माननीय मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के द्वारा  राजनानदगाव अपने निवासःमें “सांसद माननीय अभिषेख  सिह” व “लोकप्रिय महापौर मधुसूदन यादव जी” की उपस्थिति में राजननंदगाव में सम्पन्नन हुआ। बेमेतरा के बेरला ब्लाक के रिपोर्टर टिकेश साहू ने लेपटॉप से सबका संदेश की पूरी जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री जी से समाचार को प्रकाशन के विमोचन को करवाया डॉ रमन सिंह ने सबका संदेश के सम्पादक अभिताब नामदेव से खबरों की प्रशंसा करते हुए बीते दिनों की याद ताजा की,

और इस अवसर पर राजननंदगाव के वरिष्ठ पत्रकार श्रीरामचंद्र (मंजू बुक सेल्स)  रिपोर्टर सबका संदेश लक्मन यादव , राजेन्द्र नामदेव ,भोला यादव {प्रेसीडेंट यादव समाज},जैन समाज के युवा सदस्य व सबका संदेश रिपोर्टर रवि जैन सहित सैकड़ों की उपस्थिति में कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। 

कार्यक्रम को समापन की ओर बढ़ाते हुए संपादक अभिताब नामदेव ने माननीय मुख्यमंत्री जी व युवा सांसद अभिषेक सिंह एवम भाजपा के सबसे एक्टिव व जन जन के प्रिय माननीय मधुसूदन यादव जी, एवम कवर्धा भाजयुमो अध्यक्ष माननीय कैलाश चंद्रवंसी जी का आभार व्यक्त किया।एवम सभी सम्मानित उपस्थित रिपोर्टरों से देश भक्ति को ध्यान में रखकर समाचार लिखने की सलाह दी।

 

साँप काटने पर कैसे करे बचाव

दोस्तों दुनिया मे 550 प्रकार की सांप की प्रजातियां पाई जाती है। इसमे से 10 ऐसी प्रजातियां हैं जो की जहरीली होतें हैं। इन दस प्रजातियों में से सबसे जहरीला कोबरा को माना जाता है। बाकी के बचे 540 प्रजातियां ऐसी हैं। जिसके काटने से मनुष्य की मृत्यु नही होती है।

आपको बता दें कि 550 सांपों की प्रजातियां में से 10 प्रजातियां ऐसी हैं जिनके काटने से मनुष्य मरता है। बाकी के बचे 540 प्रजातियां वाले साँप के काटने से मनुष्य नही मरता है। सीधा सा मतलब यह है कि दुनिया मे 540 ऐसी प्रजातियां हैं जिनके काटने से मनुष्य नही मरता है। आप बिलकुल भी चिंता न करें

दोस्तों लेकिन सांप काटने का डर लोगों में इतना फैला हुआ है कि अगर किसी को साँप ने काट भी लिया तो वह कहेगा कि हाय मुझे तो सांप ने काट लिया। एक बात सच कहूं तो कई बार तो आदमी जहर से नही मरता है बल्कि वह हार्ट अटैक और कार्डिएक अरेस्ट से मर जाता है। इसका मुख्य कारण है भय।

भय को अपने अंदर से उस वक्त निकलना होता है। जरा आप भी सोचिए दुनिया मे 550 सांप की प्रजातियां हैं जिनमे से 10 सांपो की ऐसी प्रजातियां हैं जिन सांपो के काटने से आदमी मरता है। इनमे से 4 जहरीले सांपो के नाम हम बता रहे हैं।पहला- रसेल वाईपर दूसरा -कारित तीसरा- वाईपर और अंतिम किंग कोबरा है।

इनमे से सबसे खतरनाक किंग कोबरा को माना जाता हैं। जिसे लोग काला नाग भी कहतें हैं। अगर किसी को काला नाग ने काट लिया है तो 99% कन्फर्म है कि उसकी डेथ होगी। लेकिन अगर आप इस समय थोड़ा होशियारी से काम लेंगे तो आप अपना कीमती जीवन बचा सकतें हैं।

दोस्तों सांप के दो दांत होतें हैं जो कि सांप के मुख में ऊपर की ओर होतें हैं। जब भी इंशान को सांप काटता है तो वही ऊपर का दांत शरीर के मांस में धंस जाता है। और सांप खून में अपना जहर छोड़ देता है। दोस्तों हम आपको एक बात स्पस्ट कर देतें हैं कि अगर सांप आपके शरीर मे कही भी काटता है चाहे वह ऊपर की तरह हो या फिर नीचे की तरह।

जहर सबसे पहले हार्ट अर्थात दिल की तरफ सबसे पहले जाता है। उसके बाद खून के माध्यम से पूरे शरीर मे फैलता है। इस क्रिया को होने में तीन घण्टे का समय लगता है। मतलब यह है कि जहर को पूरे शरीर तक पहुंचने में तीन घण्टे का समय लगता है। अर्थात आदमी को तीन घण्टे तक कुछ नही होगा वह जीवित अवस्था मे रहेगा।

जब जहर आदमी के पूरे शरीर मे फैलता है तभी आदमी की डेथ होती है। अन्यथा उसकी डेथ नही होगी। दोस्तों आपके पास रोगी को बचाने के लिए तीन घण्टे का समय होता है। आप इन तीन घण्टे में रोग को बचा सकतें हैं। इसके लिए नीचे दिए गए उपचार को ध्यान से पढ़िए।

– कौन सी मेडिसिन लेनी चाहिए

दोस्तों एक मेडिसिन आती है आप उस मेडिसिन को होमियोपैथी की दुकान से खरीद सकतें हैं। होम्योपैथीक के दुकान पर आसानी से मिल जाएगी। जिस मेडीसिन का नाम Naza है। आप होमियोपैथीक की दुकान पर जाएं और उससे कहिए कि मुझे नाजा-200 or Naza-200 दे दो। वह आपको तुरन्त दे देगा। इसकी 5 मिलीलीटर का दाम 50 रुपये होती है आप 50 रुपये में हजारों की जान बचा सकतें हैं।

नाजा-200 मेडिसिन कैसी बनी

दोस्तों नाजा मेडिसिन दुनिया के सबसे खतरनाक सांप का पॉयजन है। इस पॉयजन को दुनिया का सबसे खराब पॉयजन माना जाता है। जिस सांप से यह पॉयजन नाजा मेडिसिन बना हैं। अगर यह सांप किसी को काट ले तो भगवान भी उसे नही बचा सकतें तो आप सोच के देखिये की यह पॉयजन कितना जहरीला होगा।

दोस्तों हम सब के बीच एक कहावत प्रचलित है कि लोहा को लोहा ही काटता है आयुर्वेद सिंद्धांत यह है कि जब एक सांप का जहर शरीर के अंदर चला जाता है तो दूसरे सांप जहर ही काम आता है। इसीलिए आप इस नाजा-200 को अपने घर मे रख लीजिए क्योकि यह दुनिया के सबसे खतरनाक सांप का जहर है।

दवा लेने की विधि-

दोस्तों नाजा-200 की एक बूंद हर 10 मिनट बाद रोगी के जीभ पर डालें। साधारण भाषा में- पहले 1 बूंद रोगी के जीभ पर डालें,10 मिनट बाद फिर एक बूंद जीभ पर डाले,10 मिनट बाद फिर एक बूंद जीभ पर डाले। आपको सिर्फ 3 बार ही डालना है। बस रोगी की जान बचाने के लिए 3 बूंद काफी है। आप इस उपाय से पीड़ित की जान बचा सकतें हैं।

दोस्तों होमियोपैथी में जो सांप के काटने पर देने वाली जो इंजेक्शन आती है। वह हर अस्पतालों में नही मिल पाता। डॉक्टर आपको कहेगा यहां ले जाओ वहां ले जाओ, तमाम बातें करेगा। और जो ये इंजेक्शन आती है इसकी कीमत लगभग 10 से 15 हजार होती है।

जहां ये इंजेक्शन उपलब्ध होती है वहाँ डॉक्टर क्या करता है जानते हो। मरीज को होमिओपेथी वाली यही इंजेक्शन 10 से 15 यहीं इंजेक्शन लगा देता है। मतलब की आपको जहां नाजा-200 दवा से आपको 50rs खर्च होने वाला था। वही आपको डेढ़ लाख से दो लाख को चुना लग गया। मैं गांरटी लेता हूँ कि यह नाजा-200 दवा इंजेक्शन से 100 गुना अच्छा है।

दोस्तों इस बात को ध्यान में रखिये। अगर आपके आस-पास या फिर आपको सांप काटे तो मौके पर अगर नाजा-200 घर मे उपलब्ध न हो तो फटाफट घर पर ही प्राथमिक उपचार करें। जैसे कि किसी ब्लेड से सांप के काटे हुए स्थान को काट कर सारा जहर निकाल दें। ओर मरीज को ठंडी हवा दें।

उसके सामने शोरगुल न मचायें। और अपने किसी नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर तुरंत लेकर जाएं। और डॉक्टर से वही होमियोपैथी वाला इंजेक्शन लगवाने को कहें जो कि 15 हजार रुपये का एक आता है।

तो दोस्तों ये जानकारी आप रखें या फिर आप इस जानकारी को कहीं नोट कर लें। शेयर करले पता नही कब और कहाँ यह जानकारी काम आ जाये।

कामयाबी: वैज्ञानिकों ने खोजा सिर्फ ब्लड टेस्ट से कैंसर पता करने का तरीका

कैंसर का पता लगाने के लिए आसान तरीका खोजने में जुटे वैज्ञानिकों को बड़ी कामयाबी मिली है। जॉन हापकिंस यूनिवर्सिटी की एक टीम ने एक ऐसी विधि ईजात की है जिससे इस घातक बीमारी के बारे आठ प्रकारों के बारे में पता लगाया जा सकता है।

शोधकर्ताओं की टीम के एक सदस्य ने कहा कि ब्लड टेस्ट की इस अनोखी विधि को खोजने वाले वैज्ञानिकों का उद्देश्य कैंसर का समय से पहले पता लगाना और लोगों की जान बचाना है। इस बीमारी के बारे में ब्लड टेस्ट की मदद से भी जानकारी हासिल की जा सकती है। शरीर में मौजूद या बनी ग्रंथि की वजह से डीएन की प्रोटीन में कुछ विशेष बदलाव देखने को मिलते हैं। यह बदलाव ब्लड में भी देखे जा सकते हैं।

कैंसर का पता लगाने वाले इस टेस्ट में 16 तत्वों को देखा जा सकता है जो कि कैंसर होने की स्थिति में लगातार बढ़ते हैं। कई बार इस मामले में देखने को मिलता है आठ प्रकार की प्रोटीन का भी रिसाव होता है।

1005 मरीजों में हुआ शोध-
कैंसर टेस्ट की नई विधि का पता लगाने वाली टीम ने अंडाशय, लीवर, ब्रेस्ट, फेफड़े और आमाशय आदि के कैंसर से पीडि़त 1005 मरीजों का पर यह टेस्ट किया। टेस्ट में पता लगा कि इस घातक बीमारी के टिश्यू लगातार उनमें बढ़ रहे थे।

जिन मरीजों पर यह टेस्ट किया गया उनमें से 70 फीसदी लोगों में सफलता पूर्वक कैंसर की पहचान की जा सकी। यह पहचान कैंसर के उन मरीजों में की जा सकी जिन्होंने अभी तक इसका इलाज शुरू नहीं कराया था।

इस प्रमुख शोधकर्ता डॉ क्रिश्चियन टोमासेट्टी ने मीडिया को बताया कि इस बीमारी के बारे में पहले से पता लगाना पहुत मुश्किल काम है, लेकिन टेस्ट में जो रिजल्ट मिले हैं वह उत्साह जनक हैं। इससे फायदा यह होगा कि लोग बीमारी बढ़ने से पहले ही अपना इलाज शुरू करा सकेंगे।

क्या यह एक यूनिवर्सल टेस्ट है?
कैंसर का पता लगाने वाले इस टेस्ट के बारे में एक साइंस मैगजीन में व्यापक जानकारी प्रकाशित की गई है। इस टेस्ट को काफी अच्छा माना गया है क्योंकि इसमें डीएनए और प्रोटीन्स के बदलाव के बारे में जानकारी मिलती है।

शोध टीम के लीडर और सेंटर फॉर इवोलुशन एंड कैंसर एट द कैंसर रिसर्च के डॉक्टर गर्ट अटार्ड ने मीडिया से कहा कि  इस टेस्ट विधि में अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि वह इस विधि से  उस ब्लड टेस्ट के काफी करीब पहुंच चुके हैं जिससे कैंसर का पता लगाया जा सकता है। अब उन्हें इसकी तकनीक मिल चुकी है।

इस तकनीक से मात्र 500 डॉलर यानी 31870 रुपए से भी कम में लोग अपना टेस्ट करा सकेंगे।

टमाटर के ये फायदे जानते हैं आप, कई बीमारियों से रखता है दूर

भारतीय पाक-पकवानों में टमाटर का विशेष महत्व है। इसका प्रयोग सब्जी, सलाद, सूप व चटनी बनाने के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही इसमें कोलेस्ट्रॉल को कम करने वाले तत्व भी पर्याप्त मात्रा में होते हैं, जिन लोगों को वजन कम करना है उनके लिए भी ये काफी फायदेमंद है, लेकिन टमाटर की सबसे बड़ी खासियत ये होती है कि टमाटर को पकान देने के बाद भी उसके पोषक तत्व बने रहते हैं।

टमाटर खाने के फायदे
-टमाटर का इस्तेमाल कई बीमारियों की रोकथाम के लिए किया जाता है।
– सुबह-सुबह बिना पानी पिए पका टमाटर खाना स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।
-अगर बच्चे को सूखा रोग हो जाए तो उसे प्रतिदिन एक गिलास टमाटर का जूस पिलाने से बीमारी में आराम मिलता है।
-बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास के लिए टमाटर बहुत फायदेमंद होता है।
-मोटापा घटाने के लिए भी टमाटर का इस्तेमाल किया जा सकता है. प्रतिदिन एक से दो गिलास टमाटर का जूस पीने से वजन घटता है।
-गठिया के रोग में भी टमाटर बहुत फायदेमंद है. प्रतिदिन टमाटर के जूस में अजवायन मिलाकर खाने से गठिया के दर्द में आराम मिलता है।
-गर्भावस्था में टमाटर का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है; इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होता है, जो गभर्वती के लिए काफी अच्छा होता है

दादी माँ के 30 घरेलू उपाय

दादी माँ के घरेलू उपाय : कोई भी बीमारी हो उसके लिये सबसे बेहतर घरेलू नुस्‍खे ही रहते हैं। चाहे तो सिर में दर्द हो या फिर हाई बीपी की समस्‍या हो, घर की रसोई में रखे मसाले हर वक्‍त काम आ जाते हैं। आज कल बहुत ही कम लोग हैं जो घरेलू नुस्‍खे आजमाते हैं मगर दोस्‍तों अगर पुराने जमाने की बात की जाए तो हमारी दादी – नानी इन्‍हीं के भरोसे अपनी पूरी जिंदगी काट लेती थीं।

1. मासिक धर्म (Periods) में दर्द से छुटकारा पाना के लिए ठंडे पानी में दो-तीन नींबू निचोड़ कर पिये।

2. तेज सिरर्दर्द से छुटकारा पाने के लिए सेब को छिल कर बारीक काटें। उसमें थोड़ा सा नमक मिलाकर सुबह खाली पेट खाएं।

3. शरीर पर कहीं जल गया हो, तेज धूप से त्वचा झुलस गई हो, त्वचा पर झुर्रियां हों या कोई त्वचा रोग हो तो कच्चे आलू का रस निकालकर लगाने से फायदा होता हैं।

4. शरीर पर कहीं जल गया हो, तेज धूप से त्वचा झुलस गई हो, त्वचा पर झुर्रियां हों या कोई त्वचा रोग हो तो कच्चे आलू का रस निकालकर लगाने से फायदा होता हैं।

5. मक्खन में थोड़ा सा केसर मिलाकर रोजाना लगाने से काले होंठ भी गुलाबी होने लगते हैं।

6. मुंह की बदबू से परेशान हों तो दालचीनी का टुकड़ा मुंह में रखें। मुंह की बदबू तुरंत दूर हो जाती हैं।

7. बहती नाक से परेशान हों तो युकेलिप्टस(सफेदा) का तेल रूमाल में डालकर सूंघे। आराम मिलेगा।

8. कुछ दिनों तक नहाने से पहले रोजाना सिर में प्याज का पेस्ट लगाएं। बाल सफेद से काले होने लगेंगे।

9. चाय पत्ती के उबले पानी से बाल धोएं, इससे बाल कम गिरेंगे।

10. बैंगन के भरते में शहद मिलाकर खाने से अनिद्रा रोग का नाश होता है। ऐसा शाम को भोजन में भरता बनाते समय करें।

11. संतरे के रस में थोड़ा सा शहद मिलाकर दिन में तीन बार एक-एक कप पीने से गर्भवती की दस्त की शिकायत दूर हो जाती हैं।

12. गले में खराश होने पर सुबह-सुबह सौंफ चबाने से बंद गला खुल जाता हैं।

13. सवेरे भूखे पेट तीन चार अखरोट की गिरियां निकालकर कुछ दिन खाने मात्र से ही घुटनों का दर्द समाप्त हो जाता हैं।

14. ताजा हरा धनिया मसलकर सूंघने से छींके आना बंद हो जाती हैं।

15. प्याज का रस लगाने से मस्सो के छोटे – छोटे टुकड़े होकर जड़ से गिर जाते हैं।

16. प्याज के रस में नींबू का रस मिलाकर पीने से उल्टियां आना तत्काल बंद हो जाती हैं।

17. गैस की तकलीफ से तुरंत राहत पाने के लिए लहसुन की 2 कली छीलकर 2 चम्मच शुद्ध घी के साथ चबाकर खाएं फौरन आराम होगा।

18. मसालेदार खाना खाएं मसालेदार खाना आपकी बंद नाक को तुरंत ही खोल देगा।

19. आलू का छिलका आपकी त्वचा पर ब्लीच की तरह काम करता है। इसे लगाने से आपकी काली पड़ी त्वचा का रंग सुधरता है। इसलिए आज के बाद आलू के छिलके को फेके नहीं बल्कि उनका इस्तेमाल करें।

20. यदि आपको अकसर मुंह में छाले होने की शिकायत रहती है तो रोज़ाना खाना खाने के बाद गुड को चूसना ना भूलें। ऐसा करने छाले आपसे बहुत दूर रहेंगे।

21. पतली छाछ में चुटकी भर सोडा डालकर पीने से पेशाब की जलन दूर होती हैं।

22. प्याज और गुड रोज खाने से बालक की ऊंचाई बढती हैं।

23. रोज गाजर का रस पीने से दमें की बीमारी जड़ से दूर होती हैं।

24. खजूर गर्म पानी के साथ लेने से कफ दूर होता हैं।

25. एक चम्‍मच समुद्री नमक लें और अपनी खोपड़ी पर लगा लें। इसे अच्‍छी तरह से मसाज करें और ऐसा करते समय उंगलियों को गीला कर लें। बाद में शैम्‍पू लगाकर सिर धो लें। महीने में एक बार ऐसा करने से रूसी नहीं होगी।

26. अगर आपके नाखून बहुत कड़े हैं तो उन्‍हे काटने से पहले हल्‍के गुनगुने पानी में नमक डालकर, हाथों को भिगोकर रखें। और 10 मिनट बाद उन नाखूनों को काट दें। इससे सारे नाखून आसानी से कट जाएंगे।

27. शरीर में कहीं गुम चोट लग जाए या नकसीर आए तो बर्फ की सिकाई बहुत फायदेमंद होती हैं।

28. अगर कोई कीड़ा-मकोड़ा काट ले, तो तुरंत कच्चे आलू का एक पतला टुकड़ा काटकर उस पर नमक लगाकर कीड़े के काटे हुए स्थान पर 5-7 मिनट तक रगड़ें। जलन और दर्द गायब हो जाएगा।

29. बवासीर से छुटकारा पाने के लिए सुबह खाली पेट 2 आलू-बुखारे खाए।

30. दांत के दर्द से छुटकारा पाने के लिए अदरक का छोटा सा टुकड़ा चबाएं। दर्द तुरंत दूर हो जाएगा।

इन देशों में नए साल ने दी दस्तक, धूमधाम से मनाया जा रहा है न्यू ईयर

दिल्ली. पूरा देश न्यू ईयर सेलिब्रेशन में जुटा है. लोग अपने परिचितों को पुराना साल बीतने और नया साल आने की बधाई देने में जुटे हैं. हममें से ज्यादातर को रात 12 बजे का इंतजार है जब लोग पुराने साल को अलविदा कहकर नए साल का स्वागत कर सकें. पर आपको पता है कि कुछ देशों में हमसे आठ घंटे पहले नया साल मनाया जा चुका है.

हममें से ज्यादातर लोग रात 12 बजे का इंतजार कर रहे हैं लेकिन आपको शायद ही पता हो कि हमसे कई घंटे पहले नया साल कुछ देशों के लोग मना चुके हैं वो भी ढेर सारे सेलिब्रेशन के साथ. दुनिया के बेहद गुमनाम और छोटे से देशों टोंगा, सामोआ और किरिबाती में हमसे करीब आठ घंटे पहले ही नया साल दस्तक दे चुका है. इन देशों के लोग अपने अपने तरीके से न्यू ईयर सेलिब्रेशन मना चुके हैं. सबसे खास बात ये है कि अमेरिका का गुमनाम और निर्जन द्वीप बेकर आईलैंड ऐसी जगह होगी जहां नया साल सबसे आखिरी में दस्तक देगा. टोंगा के बाद न्यूजीलैंड वो देश होगा जहां न्यू ईयर मनाया जाएगा. उसके बाद आस्ट्रेलिया औऱ अन्य देशों का नंबर आएगा.

रायपुर के होटल में बिरयानी में कुत्ते का मांस परोसे जाने का सच

रायपुर. रायपुर में  एक खबर लगातार सोशल मीडिया में वायरल हो रही है. जिसमें बताया जा रहा है कि रायपुर के मॉमिनपारा के एक होटल में मटन बिरयानी में कुत्ते का मांस परोसा जा रहा है. खबर के साथ कुछ तस्वीरें भी शेयर की गइ है. जिसमें कुत्ते को चिकन या मटन की तरह काटा जा रहा है. तस्वीरें जमकर शेयर की जा रही है.खबर की जब हमने पूरी पड़ताल की तो ,तो सच्चाइ चौंकाने वाली थी.

दरअसल ये  तसवीरें 2016 से इन्टरनेट पर वायरल हो रही हैं. पहला मामला दिसम्बर 2016 का है. जिसमें हैदराबाद के एक होटल में बिरयानी में डॉग मीट परोसे जाना का मामला सामने आया था. जनवरी 2017 में फिर से कानपुर से भी डॉग मीट परोसे जाने की खबर आई. खबर अलग-अलग जगहों से अलग-अलग समय पर आइ थी.लेकिन तस्वीरें वहीं थी और अब वहीं तस्वीरें कल  फिर से वायरल हो रही हैं. जिनमें बताया जा रहा है कि रायपुर में भी डॉग मीट परोसा गया है. ये खबर पूरी तरह से फर्जी खबर है. सोचने वाली बात ये है कि बार-बार इस तरह की अफवाह फैलाई जा रही है और लोग  बिना सोचे-समझे इसे वायरल भी कर रहे हैं.

मौत के लाइव वीडियो को देखकर रुह कांप जाएगी आपकी, कमज़ोर दिलवाले न देखें

अररिया, बिहार। जो लोग बिहार नहीं गए या बाढ़ प्रभावित इलाके में नहीं रहे उनके लिए बिहार में बाढ़ की विभीषिका केवल एक खबर है. वहां हो रही मौतें महज़ एक आंकडे हैं. लेकिन वहां लोग कैसे इस विभीषका को झेलते हैं. कैसे पल-पल मौत और जिंदगी के बीच जूझते हुए ज़िंदगी जीते हैं. ये समझना है तो इस वीडियो को देखिए. आपकी रुह कांप जाएगी, अगर आप जरा भी संवेदनशील हुए तो. लेकिन फिर से एक गुज़ारिश इस वीडियो को कमज़ोर दिल वाले न देखें

वीडियो में आप देखेंगे कि कैसे एक महिला पति की जरा सी लापरवाही के चलते अपने बच्चे के साथ बाढ़ में बह जाती है. सैकड़ों लोग वहां खड़े रहते हैं लेकिन सब लाचार. न कोई वहां रेस्क्यू है न ही लोगों के पास साधन कि महिला को बचाने की कोशिश भी करें.

कमज़ोर दिल वाले इस वीडियो को न देखें

व्यापारी के बेटे का अपहरण, अपहरणकर्ताओं ने मांगी ये रकम, फिर…

सरसींवा थाना क्षेत्र के एक व्यापारी के बेटे को अगवा किये जाने की खबर से हड़कम्प मच गया. बेटे को अगवा करने वालो ने व्यापारी से तीन लाख की फिरौती की मांग की. इसी बीच पुलिस ने योजनाबंद्ध तरीके से कार्रवाई करते हुए अगवाकर्ता को ​गिफ्तार कर उनके चंगुल से व्यापारी के बेटे को सकुशल आजाद करा लिया. साथ ही अगवा करने के लिए उपयोग किये गये वाहनों को भी पुलिस ने जप्त किया है.

बालपुर के चन्द्रा राइस मिलर पुनेश्वर चंद्रा के बेटे नरेश कुमार चंद्रा का 26 दिसम्बर को कुछ लोगों ने अपरहण कर लिया और पुनेश्वर को फोन कर अपरहणकर्ता ने नरेश को छोड़ने के बदले में 3 लाख की फिरौती की मांग की. जिसकी जानकारी पुनेश्वर ने सरसीवा थाने को दी गई.