Category: खास ख़बर

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी के समक्ष कांग्रेस के 300 कार्यकर्ताओं ने प्रवेश किया भाजपा

कोयलांचल की नगरी दीपका गेवरा में दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष सांसद प्रसिद्ध भोजपुरी गायक मनोज तिवारी ने चुनावी सभा को किया सम्बोधित भाजपा प्रत्याशी लखन देवांगन को भारी मतों से जीताने लोगों से की अपील

प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद प्रसिद्ध गायक मनोज तिवारी के दीपका गेवरा आगमन पर भारतीय जनता युवा मोर्चा के लगभग 500 कार्यकर्ताओं ने बाइक रैली निकालकर किया स्वागत, कार्यक्रम में 300 कार्यकर्ताओं ने किया भाजपा प्रवेश ।

कोयलांचल की नगरी दीपका गेवरा में दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सांसद एवं प्रसिद्ध भोजपुरी गायक मनोज तिवारी ने छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कटघोरा विधानसभा के प्रत्याशी लखन देवांगन व भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने प्रतिक्षा बस स्टैंड दीपका में आयोजित कार्यक्रम में हजारों कार्यकर्ताओं से अपील किया साथ ही लखन देवांगन को सर्वाधिक मतों से विजयी बनाकर उन्हें मंत्री बनाकर सेवा का अवसर प्रदान करें, क्षेत्र को विकास कि श्रेणी में और अधिक ऊंचाइयों पर पहुंचाएं और मनोज तिवारी का मान रखें सर्वप्रथम मनोज तिवारी के हेलीपैड गेवरा स्टेडियम में उतरने पर सांसद डॉक्टर बंसीलाल महतो भाजपा प्रत्याशी लखन देवांगन भाजपा जिलाध्यक्ष अशोक चावलानी ने स्वागत किया  तत्पश्चात भारतीय जनता युवा मोर्चा के लगभग 500 कार्यकर्ताओं ने बाइक रैली के माध्यम से उन्हें कार्यक्रम स्थल तक लेकर आया  क्रमबद्ध भाजपा मंडल दीपका के पदाधिकारियों द्वारा स्वागत किया गया मनोज तिवारी के आगमन पर पूर्वांचल एवं स्थानीय लोगों में काफी उत्साह देखा गया इस अवसर पर संतोष गुप्ता किरपाल सिंह कंवर सुरभवन सिंह नरेंद्र यादव सोनू गुप्ता सहित लगभग 300 कार्यकर्ताओं ने भाजपा प्रवेश किए कार्यक्रम में भाजपा प्रत्याशी लखन देवांगन ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 5 सालों में कटघोरा विधानसभा क्षेत्र की जनता ने मुझे सेवा करने का जो आशीर्वाद दिया था निश्चित ही कटघोरा विधानसभा क्षेत्र को विकास कार्यों से आगे बढ़ाने का प्रयास किया गया है यहां के एक-एक नागरिक आम जनमानस की भावनाओं का सम्मान करते हुए लगातार प्रयासों से सबसे पिछड़ी हुई विधानसभा कटघोरा विधानसभा विकास की श्रेणी में नई ऊंचाइयों को हासिल कर नया कीर्तिमान स्थापित किया है पिछले 5 साल के कार्यकाल में कटघोरा विधानसभा के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में मूलभूत आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए निरंतर सीसी रोड निर्माण सामुदायिक भवन सांस्कृतिक मंच मुक्तिधाम आंगनबाड़ी भवन ग्राम पंचायत भवन स्कूल भवन हाई स्कूल भवन पुल पुलिया एनीकट स्टॉप डेम पचरी निर्माण जलाशय निर्माण विद्युत सबस्टेशन नाली निर्माण बाजार शेड निर्माण जैसे कार्य किए गए हैं, नगर पालिका दीपका में करोड़ों का मांगलिक भवन सामुदायिक भवन स्वास्थ्य केंद्र की स्थापना विभिन्न वार्डों में सीसी रोड निर्माण सांस्कृतिक मंच जल आवर्धन का कार्य नाली निर्माण जैसे कार्य शामिल हैं कई कार्य प्रगति पर एवं अनेकों कार्य स्वीकृति हुई है दीपका बायपास का निर्माण दीपका से पाली मार्ग दीपका से हरदी बाजार बायपास सड़क तथा दीपका से चाकाबुडा जवाली मार्ग प्रगति पर है इस तरह से पूरे कटघोरा विधानसभा का तेजी के साथ विकास हुआ है इस अवसर पर क्षेत्रीय सांसद डॉक्टर बंशीलाल महतो भाजपा प्रत्याशी लखन देवांगन भाजपा जिलाध्यक्ष अशोक चावलानी भाजपा जिला मंत्री प्रफुल्ल तिवारी शिवचरण राठौर किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष मनोज शर्मा नगरपालिका अध्यक्ष बुगल दुबे भाजपा दीपका मंडल अध्यक्ष द्वारिका शर्मा हरदी बाजार मंडल अध्यक्ष दुष्यंत शर्मा बाकी मोंगरा मंडल अध्यक्ष सतीश झा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष मीना शर्मा  विस्तारक छगन साहू अनुसूचित जाति जिलाअध्यक्ष नरेश टंडन शैल राठौर महामंत्री रमेश गुरुद्वान राजेंद्र राजपूत मंडल उपाध्यक्ष महेंद्र सिंह जितेंद्र राजपूत नंदु यादव मंत्री संजय जायसवाल  वरिष्ठ भाजपा नेता मनी सिंह बाबा भाजयुमो जिला महामंत्री नरेन्द्र देवांगन  सांसद प्रतिनिधि दीपक जायसवाल संतोष निराला भाजयुमो कार्यसमिति सदस्य राधेश्याम सिंह निमेश अग्रवाल अमन शर्मा मंडल अध्यक्ष राकेश सिंह उपाध्यक्ष निलेश साहू मंत्री धीरेंद्र तिवारी अरुण सोनी भरत जायसवाल पार्षद दीपक गिलहरे पंकज राठौर समारू कशेर रोहित जायसवाल राजुप्रजापति सौरभ सिंह गजेंद्र राजपूत एल्डरमैन बुधवारा देवांगन उत्तरा कुंभकार महिला मोर्चा मंडल अध्यक्ष ज्योति तिवारी महामंत्री अनीता पटेल कुसुमलता केवट सुभद्रा यादव  गौरव सिंह हितेश मित्तल सौरभ गुरुद्वान सहित विभिन्न मंडलों के पदाधिकारी विभिन्न मोर्चा प्रकोष्ठ के जिला एवं मंडल के पदाधिकारी एवं सदस्य के साथ हजारों भाजपा के कार्यकर्ता गण उपस्थित थे ।।

 

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने किया सबका संदेश डॉट कॉम विमोचन

सबका संदेश न्यूज
sabkasandesh.com

आज दिनांक 18 मार्च 2018 को सबका संदेश डॉट कॉम का विमोचन माननीय मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के द्वारा  राजनानदगाव अपने निवासःमें “सांसद माननीय अभिषेख  सिह” व “लोकप्रिय महापौर मधुसूदन यादव जी” की उपस्थिति में राजननंदगाव में सम्पन्नन हुआ। बेमेतरा के बेरला ब्लाक के रिपोर्टर टिकेश साहू ने लेपटॉप से सबका संदेश की पूरी जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री जी से समाचार को प्रकाशन के विमोचन को करवाया डॉ रमन सिंह ने सबका संदेश के सम्पादक अभिताब नामदेव से खबरों की प्रशंसा करते हुए बीते दिनों की याद ताजा की,

और इस अवसर पर राजननंदगाव के वरिष्ठ पत्रकार श्रीरामचंद्र (मंजू बुक सेल्स)  रिपोर्टर सबका संदेश लक्मन यादव , राजेन्द्र नामदेव ,भोला यादव {प्रेसीडेंट यादव समाज},जैन समाज के युवा सदस्य व सबका संदेश रिपोर्टर रवि जैन सहित सैकड़ों की उपस्थिति में कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। 

कार्यक्रम को समापन की ओर बढ़ाते हुए संपादक अभिताब नामदेव ने माननीय मुख्यमंत्री जी व युवा सांसद अभिषेक सिंह एवम भाजपा के सबसे एक्टिव व जन जन के प्रिय माननीय मधुसूदन यादव जी, एवम कवर्धा भाजयुमो अध्यक्ष माननीय कैलाश चंद्रवंसी जी का आभार व्यक्त किया।एवम सभी सम्मानित उपस्थित रिपोर्टरों से देश भक्ति को ध्यान में रखकर समाचार लिखने की सलाह दी।

 

स्व. बलिराम कश्यप की पुण्यतिथि पर 3 दिवसीय मानस महोत्सव एवं नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर 

स्व. बलिराम कश्यप की पुण्यतिथि पर 3 दिवसीय मानस महोत्सव एवं नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर 

10 मार्च से प्रारंभ होगा यह आयोजन 

जगदलपुर, 06 मार्च। स्वर्गीय बलीराम कश्यप की 10 मार्च सप्तम पुण्यतिथि के स्मरणीय क्षणों की स्मृतितांजलि में

शिक्षा मंत्री केदार कश्यप के ग्राम फरसागुड़ा (भानपुरी )में तीन दिवसीय मानस मंडलियों द्वारा सस्वर रामचरित्र मानस की प्रस्तुतियां की जायेंगी, जिसमें आमंत्रित विद्वानों का मार्गदर्शन भी प्राप्त होगा। 

इस अवसर पर तीन दिवसीय विशाल नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन भी किया जा रहा है। इसमें राज्य के प्रसिद्ध विशेषज्ञ चिकित्सक ह््रदय रोग, कैंसर रोग, पेट रोग, श्वास रोग, डायबिटीज, न्यूरोलाजी, गुर्दा रोग, हड्डी रोग, जनरल मेडीसीन, चर्म रोग, नेत्र रोग, दंत रोग, स्त्री रोग, शिशु रोग इत्यादि रोगों का परीक्षण अत्याधुनिक मशीनों के माध्यम से करेंगे। शिविर में खून की जांच, एक्सरे, सोनोग्राफी, ईसीजी हेतु सुविधा उपलब्ध होगी। शिविर में आयुर्वेदिक, होम्योपेथिक एवं एक्यूप्रेशर पद्धति से ईलाज की अतिरिक्त सुविधा भी सेवा में उपलब्ध होगी। इच्छुक स्वयंसेवी रक्तदान भी कर सकेंगे। 

शिविर में नेत्र विशेषज्ञ द्वारा जांचकर आवश्यकतानुसार स्थल में नि:शुल्क चश्मा एवं कान विशेषज्ञ द्वारा जांचकर आवश्यकतानुसार स्थल में ही नि:शुल्क श्रवण यंत्र प्रदाय करने की व्यवस्था की गई है। 

 आमजनों से निवेेेदन है कि आप सपरिवार मानस गान के आध्यात्कि समाग में आध्यात्मिक लाभ एवं स्वास्थ्य शिविर में पधारकर स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करे-
सांसद दिनेश कश्यप एवं मंत्री केदार कश्यप

 

करबला कमेटी का आयोजन – फूलों की पंखुडिय़ों के साथ खेली गई होली

भिलाईनगर –  करबला कमेटी द्वारा नगर पुलिस अधीक्षक छावनी के कार्यालय परिसर में संध्या के समय होली मिलन समारोह का आयोजन किया गया। इस अवसर पर करबला कमेटी ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी, पत्रकारों व निगम के पार्षदों का शाल भेंट कर सम्मान किया । संध्या 5 बजे से आयोजित इस समारोह में करबला कमेटी के प्रमुख गुलाम सैलानी, पूर्व पार्षद मो.गफ्फार खान ने होली मिलन समारोह में उपस्थित छावनी के सीएसपी अजीत कुमार यादव, भिलाई नगर के सीएसपी वीरेन्द्र सतपथी, प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक चंद्रशेखर परमा, छावनी के थाना प्रभारी सुरेन्द्र यूके, खुर्सीपार के थाना प्रभारी नरेश पटेल, जामुल के थाना प्रभारी दिलीप सिंह सिसोदिया, नंदिनी अहिवारा के थाना प्रभारी लीला शंकर कश्यप, वरिष्ठ पत्रकार अरविंद सिंह, सुधीर सिंह, प्रेस क्लब के महासचिव खिलावन सिंह चौहान, निगम के पार्षद जी.राजू, दुर्गा प्रसाद साहू, जोहन सिन्हा, जगदीश चेलक, रिंकू उर्फ राजेश कुमार का समारोह में शाल भेंट कर सम्मानित किया गया । इस अवसर पर उपस्थित लोगों ने फूलों की पंखुडिय़ों के साथ गरिमामय माहौल में होली खेल कर एक दूसरे को होली पर्व की बधाई दी। इस अवसर पर आयोजन समिति के गुलाम सैलानी, पूर्व पार्षद मो.गफ्फार खान, दुर्गा प्रसाद साहू, अलाउद्दीन सिद्धीकी, अकलम हैदाराबादी, तनवीर मलिक, डी.के.साहू, अब्दुल शुभान, रसीद अहमद, अब्दुल तहुर पवार, तनवीर मलिक , राज फारूकी, शमशाद अंसारी, मुख्त्यार चिश्ती, यू.एस.झा, मोनू, आसिफ सिद्धिकी, शेख पीरजहां, करन सोनकर, शिवबोधन यादव, अयोध्या यादव, विशाल सिंह, नियाज मामू, जहुर भाई सहित भारी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग, पुलिस कर्मी एव आम जनमानस उपस्थित था ।

सुबह सुबह सेलूद चौक छावनी में तब्दील हुआ –

दुर्ग / सेलूद – भारतीय जनता पार्टी द्वारा सेलुद सोसाइटी अध्यक्ष के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर आज आंदोलन किया गया ।  जिसको लेकर बजरग चौक सेलूद सुबह से ही पुलिस छावनी के रुप में परिवर्तीत कर दिया गया । सेलूद में अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक डी आर पोर्ते, पाटन एसडीओपी सुश्री माधुरी धिरहि , अमलेसवर थाना प्रभारी ऋचा मिश्रा, ट्रेफिक डीएसपी सतीश ठाकुर, डीएसपी  राजेश जोसी ,जगदीश उइके, सहित लगभग सौ से अधिक पुलिस कर्मी कार्यक्रम स्थल के आस पास उपस्थित थे । साथ ही तीन बस की भी ब्यवस्था की गई थी ।

भूपेश बघेल के ख़ास सोसाइटी अध्यक्ष की गिरफ्तारी को लेकर धरना

जिसको लेकर बजरग चौक सेलूद सुबह से ही पुलिस छावनी के रुप में परिवर्तीत हो गया । पाटन भाजपा के ओर से आयोजित प्रदर्शन एवं चक्काजाम में जितेंद्र वर्मा एवं पूर्व संसदीय सचिव विजय बघेल के नेतृत्व में कर रहे थे, इसमें शासन की ओर से उमेश तिवारी ( उप पंजीयक सहकारिता ) सी पी दीपांकर ( खाद्य अधिकारी ) जी आर महिपाल ( अनुविभागीय अधिकारी ) उपस्थित थे, चर्चा के दौरान अधिकारी नही माने तो जितेंद्र साहू सहित कार्यकर्ता रोड में बैठने लगे ।

उपस्थित अधिकारियो द्वारा लिखित में एफआईआर और कार्यवाही का आश्वासन दिया गया । जिस पर कार्यक्रम को स्थगित किया गया, रामधार साहू , युवराज साहू के शिकायत पर सहकारी समिति के अध्यक्ष के खिलाफ एफआईआर किया जाएगा ।

धरना स्थल पर ,अभी तो अंगड़ाई है आगे और लड़ाई है, जैसे नारो, की गूंज होती रही, जोगी भी छाए रहे, अध्यक्ष जवाहर वर्मा के ऊपर एफआईआर और गिरफ्तारी की मांग को लेकर ,,सहकारिता एवम जिला प्रशासन ,कार्यवाही नही किये जाने पर पूर्व संसदीय सचिव विजय बघेल ने कहा कि कलेक्टर द्वारा कार्यवाही नही किया जाना भी समझ से परे है, अन्यान्य के खिलाफ हमेशा भजपा आंदोलन करेगा, भूपेश के गुलाम जवाहर वर्मा को गिरफ्तार करने एक सूत्रीय मांग को लेकर हम धरना दे रहे है ।

इस बैठक में अजय बघेल,मंडल अध्यक्ष उपासना चन्द्राकर, विजय बघेल, जिला उपाध्यक्ष लालेश्वर साहू , जितेंद्र वर्मा ,जिला मंत्री बसंत चंद्राकर, दिलीप कुर्रे जी , पुरुषोत्तम तिवारी, मोहन बंजारे, जनपद अध्यक्ष हर्षा चंद्राकर, लोकमणि चन्द्राकर, धनराज साहू, चंद्रवती कुर्रे,  सभा को पूर्व विद्यायक विजय बघेल,विनय चन्द्राकर,हर्षा चंद्राकर, डॉ लोमीन कुंभकार,,भागवत वर्मा ,दुर्गा नंदनी,किशोर साहू,मनोज वर्मा,  धरना स्थल सेलूद में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई ।  

भिलाई के रुआबांधा बाजार की 4 दुकानों में आग से लाखों का नुकसान

भिलाई। रुआबांधा बाजार की दुकान में अज्ञात बदमाशों ने देर रात आग लगा दी। आग से पूजा सामग्री की चार दुकानें जलकर खाक हो गया। जिसमें करीब 10 लाख रुपए के नुकसान की आशंका जताई जा रही है। आग देर रात करीब डेढ बजी लगी थी। सूचना मिलने के बाद फायर ब्रिगेड की गाड़ि‍यां मौके पर पहुंची और आग बुझाने के प्रयास शुरू किए।

तीन फायर ब्रिगेड ने बड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। लेकिन तब तक अंदर रखा पूरा सामान जलकर खाक हो चुका था। जानकारी मिलने के बाद दुकानों के मालिक भी देर रात वहां पहुंच गए थे। उनका कहना है कि किसी ने जाबनबूझकर यह आग लगाई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

शिक्षाकर्मियों ने नहीं खेली होली, आदेश के बाद भी नहीं मिली वेतन

फाइल फोटो

रायपुर : प्रदेश में शिक्षाकर्मियों की होली सूखी रही,जबकि राज्य सरकार ने बकायदा आदेश जारी कर शिक्षाकर्मियों को होली के पहले वेतन भुगतान के निर्देश दिए थे, लेकिन अधिकांश जिलों में शिक्षाकर्मियों का वेतन जारी नहीं हुआ, जिससे कारण शिक्षाकर्मियों की होली फीकी रही. प्राप्त जानकारी अनुसार छत्तीसगढ़ के कई जिलों में शिक्षाकर्मियों को दो माह या उससे अधिक समय से वेतन बकाया है ।

छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मियों चुनावी साल होने के कारण संविलियन जैसी बहुप्रतीक्षित मांग पूरी होने के उम्मीद लगाए बैठे हैं, सरकार ने भी इस मुद्दे पर विचार के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया है. ऐसे समय में शिक्षाकर्मियों को नियमित वेतन के लाले पड़े हुए हैं ।

शिक्षाकर्मी संघ ने भी वेतन में देरी को लेकर नाराजगी जाहिर करते हुए वे लगातार आंदोलन की चेतावनी दे रहे हैं. इसी बीच सरकार ने उनके अटेंडेंस के लिए बायो मीट्रिक सिस्टम लगा दिया है. लेकिन अभी तक उनको नियमित वेतन भुगतान नहीं हो रहा है. होली के दो दिन पहले पंचायत विभाग के संचालक ने सभी सीईओ को आदेश दिया था कि होली के पहले शिक्षाकर्मियों को जनवरी का भुगतान जारी कर दिया जाए. इसके बावजूद अधिकांश जिलों में शिक्षाकर्मियों को जनवरी की सैलेरी नहीं मिल पाई है

होली त्योहार के पहले शिक्षाकर्मियों को वेतन नहीं मिलने से वे नाराज हैं. संघ के पदाधिकारियों का कहना है कि सरकार की वादाखिलाफी उचित नहीं है. मार्च से वेतन नियमित नहीं होने पर वे लोग बायो मीट्रिक अटेंडेंस का बहिष्कार करने वाले हैं

आप भी यही सोच रहे है श्रीदेवी को तिरंगे में क्यों लपेटा गया तो जानिए

इससे बड़ा इत्तेफ़ाक़ दूसरा क्या हो सकता है कि साल 1997 में 28 फ़रवरी को श्रीदेवी की फ़िल्म जुदाई रिलीज़ हुई थी और साल 2018 में इसी दिन वो इस दुनिया से अंतिम जुदाई ले गईं.

24 फ़रवरी की रात दुबई के एक होटल में अंतिम सांस लेने वालीं श्रीदेवी मंगलवार अपने देश लौटीं.

मंगलवार रात अँधेरी के लोखंडवाला स्थित ‘ग्रीन एकर्स’ में श्रीदेवी का पार्थिव शरीर पहुंचा था और बुधवार सवेरे उनका आख़िरी सफ़र शुरू हुआ

घर से श्मशान भूमि का फ़ासला 5 किलोमीटर से ज़्यादा था और रास्ते भर पुलिस दल और SRPF के जवान तैनात थे.

तिरंगे में क्यों लिपटा था शव?

लेकिन इस दौरान जिस एक बात ने कई लोगों का ध्यान खींचा, वो थी तिरंगे में लिपटी श्रीदेवी से जुड़ी हुई. वो इसलिए क्योंकि उन्हें राजकीय सम्मान दिया गया था.

राजकीय सम्मान का मतलब है कि इसका सारा इंतज़ाम राज्य सरकार की तरफ़ से किया गया था, जिसमें पुलिस बंदोबस्त पूरा था. शव को तिरंगे में लपेटने के अलावा उन्हें बंदूकों से सलामी भी दी गई.

आम तौर पर राजकीय सम्मान बड़े नेताओं को दिया जाता है, जिनमें प्रधानमंत्री, मंत्री और दूसरे संवैधानिक पदों पर बैठे लोग शामिल होते हैं.

जिस व्यक्ति को राजकीय सम्मान देने का फ़ैसला किया जाता है उनके अंतिम सफ़र का इंतज़ाम राज्य या केंद्र सरकार की तरफ़ से किया जाता है. शव को तिरंगे में लपेटा जाता है और गन सैल्यूट भी दिया जाता है.

कौन तय करता है राजकीय सम्मान?

पहले ये सम्मान चुनिंदा लोगों को ही दिया जाता था लेकिन अब ऐसा नहीं रह गया है. अब स्टेट फ़्यूनरल या राजकीय सम्मान इस बात पर निर्भर करता है कि जाने वाला व्यक्ति क्या ओहदा या क़द रखता है.

पूर्व कानून और संसदीय मामलों के मंत्री एम सी ननाइयाह ने रेडिफ़ से कहा था, ”अब ये राज्य सरकार के विवेक पर निर्भर करता है. वो इस बात का फ़ैसला करती है कि व्यक्ति विशेष का क़द क्या है और इसी हिसाब से तय किया जाता है कि राजकीय सम्मान दिया जाना है या नहीं. अब ऐसे कोई तय दिशा-निर्देश नहीं हैं.”

सरकार राजनीति, साहित्य, कानून, विज्ञान और सिनेमा जैसे क्षेत्रों में अहम किरदार अदा करने वाले लोगों के जाने पर उन्हें राजकीय सम्मान देती है.

मुख्यमंत्री को होता है फैसला लेने के अधिकार

इस बात का फ़ैसला आम तौर पर राज्य का मुख्यमंत्री अपनी कैबिनेट के वरिष्ठ साथियों से चर्चा करने के बाद करता है.

एक बार फ़ैसला हो जाने पर राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को जानकारी दी जाती है जिनमें डिप्टी कमिश्नर, पुलिस कमिश्नर, पुलिस निरीक्षक शामिल हैं. इन सभी पर राजकीय सम्मान की तैयारियों का ज़िम्मा होता है.

ऐसा बताया जाता है कि स्वतंत्र भारत में पहला राजकीय सम्मान वाला अंतिम संस्कार महात्मा गांधी का था.

इसके अलावा पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू, लाल बहादुर शास्त्री और इंदिरा गांधी को भी राजकीय सम्मान के साथ विदाई दी गई थी.

इनको मिला था सम्मान

इसके अलावा मदर टेरेसा को भी राजकीय सम्मान दिया गया था. वो राजनीति से ताल्लुक़ नहीं रखती थीं लेकिन समाज सेवा में अहम योगदान देने के लिए उन्हें ये सम्मान दिया गया.

इसके अलावा लाखों अनुयायियों वाले सत्य साईं बाबा अप्रैल, 2011 में जब दुनिया छोड़ गए थे तो राज्य सरकार ने उन्हें भी राजकीय सम्मान दिया गया था.

गृह मंत्रालय के आला अफ़सर रहे एस सी श्रीवास्तव ने  हमारे रिपोटर सबका संदेश को बताया कि राज्य सरकार अपने स्तर पर फ़ैसला करती है कि किसे राजकीय सम्मान दिया जाना है और उसे इस बात का पूरा अधिकार है.

लेकिन क्या श्रीदेवी ये सम्मान हासिल करने वाली फ़िल्मी दुनिया की पहली शख्सियत हैं, उन्होंने जवाब दिया, ”मुझे लगता है ऐसा नहीं है. उनसे पहले शशि कपूर को भी राजकीय सम्मान दिया गया था.”

शशि कपूर को भी मिला था?

पिछले साल दिसंबर में शशि कपूर का निधन हुआ था और उन्हें भी राजकीय सम्मान के साथ विदाई दी गई थी.

हालांकि, राजेश खन्ना, विनोद खन्ना और शम्मी कपूर जैसे दिग्गज कलाकारों को राजकीय सम्मान नहीं दिया गया था.

ख़ास बात है कि अगर राज्य सरकार राजकीय सम्मान देने का फ़ैसला करती है, तो इसका असर प्रदेश भर में दिखता है.

लेकिन अगर केंद्र सरकार ये फ़ैसला करती है तो भारत भर में ये प्रक्रिया अपनाई जाती है. कई मामलों में राष्ट्रध्वज को आधा झुका दिया जाता है.

जब केंद्र सरकार की तरफ़ से राष्ट्रीय शोक की घोषणा की जाती है तो क्या-क्या होता है:

पीएम और पूर्व पीएम

फ़्लैग कोड ऑफ़ इंडिया के मुताबिक राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका दिया जाता है. इस बात का फ़ैसला सिर्फ़ राष्ट्रपति करते हैं कि ये कितने समय के लिए करना है.

सार्वजनिक अवकाश होता है.

ताबूत को तिरंगे से लपेटा जाता है.

क्रिया या सुपुर्द-ए-ख़ाक के समय बंदूकों से सलामी दी जाती है

वो प्रधानमंत्री जो मृत्यु के वक़्त पद पर थे और जिन्हें राजकीय सम्मान दिया गया

जवाहरलाल नेहरू

लाल बहादुर शास्त्री

इंदिरा गांधी

पूर्व प्रधानमंत्री

राजीव गांधी

मोरारजी देसाई

चंद्र शेखर सिंह

पूर्व मुख्यमंत्री

ज्योति बसु

ई के मालॉन्ग

कुछ ख़ास लोग

महात्मा गांधी

मदर टेरेसा

गंगुभाई हंगल

भीमसेन जोशी

बाल ठाकरे

सरबजीत सिंह

एयर मार्शल अर्जन सिंह

जानकारी सहयोगी मुम्बई से सबका संदेश रिपोर्टर -हनुमान नामदेव,के जानकारी पर

सरकारी शराब दुकानों में होली पर मची लूट, सेल्समेन ने सौ से दो सौ तक बढ़ा दी कीमत

रायपुर. होली पर शराब दुकानों में भीड़ के कारण ट्रैफिक जाम की नौबत आ गई है. पंडरी बस स्टैंड, लाखेनगर, तात्यापारा और जय स्तंभ चौक स्थित शराब दुकानों के सामने पुलिसवाले भी भीड़ नहीं संभाल पा रहे हैं. इस भीड़ का फायदा शराब दुकानों के सेल्समेन उठा रहे हैं. आलम यह है कि दुकानों में सौ से दो सौ रुपए तक ज्यादा कीमत वसूल रहे हैं. राउंड फीगर में शराब बेचने की भी शिकायत मिल रही है. भीड़ के कारण शराब का बिल प्रिंट नहीं कर रहे हैं. इस वजह से सेल्समेन मनमानी कीमत वसूल रहे हैं. जानकारी के मुताबिक 1080 रुपए की शराब 1100 से 1200 में बिक रही है. इसी तरह 710 रुपए की शराब को सेल्समेन 800 रुपए तक दे रहे हैं. इस संबंध में जब आबकारी अधिकारियों से बात की गई तो उनका कहना था कि शराब की कीमत नहीं बढ़ाई गई है. संभवत: भीड़ की वजह से चिल्हर देने में समस्या हो रही होगी. हालांकि आबकारी अधिकारियों का कहना है कि लोग ज्यादा कीमत में बिक्री की टोल फ्री नंबर पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं.

कई बड़े ब्रांड गायब

जानकारी के मुताबिक शराब दुकानों में कई बड़े ब्रांड की शराब गायब हो गई है, जबकि कुछ स्थानीय शराब कारोबारियों के ब्रांड खपाए जा रहे हैं. इसे लेकर शिकायत भी की गई है, फिर भी पुराने ब्रांड नहीं मिल रहे हैं.