महिला संसद के आयोजन में पूजा शर्मा ने शिक्षा पर किये शानदार सवाल

 

भिलाई/छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग द्वारा महिला सशक्तिकरण पर 5 मार्च सोमवार को “महिला संसद” पं. दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम साइंस कालेज में 10 बजे से आरंभ हुई ।

जिसमें उत्तर और मध्य भारत की पहली महिला संसद..देश की आधी आबादी जो जननी है, शक्ति स्वरूपा है, ममता है, शक्ति का स्वरूप भी है, उनकी 100 प्रतिशत भागीदारी से संपन्न महिला संसद जिसमें महिलाव ने की देश की बातें, राजनीति की बातें, विकास की बातें, और उनसे जुड़े प्रश्न भी ।
इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह व अतिथि के रूप में महिला व बाल विकास मंत्री रमसीला साहू,ग्रामीण विकास मंत्री अजय चंद्राकर,राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा,छग राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष हर्षिता पांडे मुख्य रूप से उपस्थित थे ।
इस कार्यक्रम में विपक्षी महिला संसद और जवाब दिया मंत्री पद पर आसिन (स्वरूप धारण की हुई) महिला मंत्री ने ।
इस ऐतिहासिक आयोजन की परिकल्पना का श्रेय छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा श्रीमती हर्षिता पाण्डेय जी को जाता है। जिन्होंने एक नवीन सोच से इस आयोजन को साकार किया । डॉक्टर, वकील, अभिनेत्री, समाजसेवी, प्राध्यापक, जनप्रतिनिधि, स्टूडेंट, अथवा गृहिणी इन सबको सप्ताह भर में प्रशिक्षत करना अपने आप में बड़ा कठिन कार्य रहा। कई खट्टे-मीठे अनुभव हुए अंतोगत्वा यह आयोजन साकार रूप में मंच में संपन्न हुआ । इस वृहद आयोजन में विपक्षी सांसद की भूमिका में भिलाई की पूजा शर्मा द्वारा शिक्षा पर किये गए सवाल काफी प्रभावी व शानदार रहे । उन्होंने बालिका शिक्षा के साथ सर्वशिक्षा अभियान के सम्बंधित सवाल किए ।
कार्यक्रम में पूरे देश के 20 राज्यो की महिला आयोग की अध्यक्ष ने हिस्सा लिया व कार्यक्रम को लगभग 1500 लोंगो ने प्रत्यक्षरूप से देखा व आयोजन कि सराहना की ।