बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने कहा, ‘वर्ल्डस नंबर बनना है मेरा लक्ष्यह’

देश की शीर्ष महिला बैडमिंटन खिलाड़ी ने कहा है कि उनका लक्ष्य दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनना है और वह शीर्ष स्थान हासिल करने का प्रयास कर रही हैं. कुछ माह पहले करियर की सर्वश्रेष्ठ दूसरी रैंकिंग हासिल करने वाली सिंधु ने कहा कि जब 8 साल की उम्र में उन्होंने पहली बार खेलना शुरू किया था तो उनका लक्ष्य भारत का प्रतिनिधित्व करना था. सिंधु यहां अपने स्कूल ‘आक्सिलम हाई स्कूल’ एक प्रचार कार्यक्रम के दौरान छात्रों और शिक्षकों से बात कर रही थीं.
इस मौके पर सिंधु ने बताया कि मेरी मां, मेरे लिए प्रेरणा है. उन्होंने कहा, ‘मां हमेशा यह कहने के लिए मौजूद रहीं  कि अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करो और जो भी करो उसमें अपना सर्वश्रेष्ठ दो. साहसी बनो और मजबूत रहो और सभी महिलाओं को ऐसा करना चाहिए और खुद पर विश्वास रखना चाहिए