कोण्डागांव पुलिस को मिली बड़ी सफलता, एक एक लाख रूपये के दोे ईनामी नक्सली गिरफ्तार

  • दुर्दांत नक्सली आमदई एल.जी.एस. सदस्य मनीराम कोर्राम एवं रायधर कश्यप पिता गिरफ्तार।
  • नक्सली मनीराम था पिछले 10 सालों से सक्रिय, एक दर्जन से अधिक मामलों में था शामिल।
  •  कोटमेटा तुमडीवाल के घने जंगल से हुई गिरफ्तारी, जिला बल कोण्डागांव एवं डीआरजी बल की संयुक्त कार्यवाही।
  • पिछले साल दोनों ने अन्य नक्सलियों के साथ मिलकर पुलिस मुखबिरी के शक में कर दी थी आम ग्रामीण की हत्या।

कोंडागाँव । गत दो दिनों में कोण्डागांव पुलिस को 01-01 लाख रूपये  के दो ईनामी नक्सलियों को पकड़ने में सफलता मिली है। दिनांक 13.02.2020 एवं 14.02.2020 के दरम्यान थाना मर्दापाल का जिला बल एवं डी.आर.जी. बल ग्राम कोटमेटा तुमड़ीवाल बिनता, मर्दापाल, बेड़मा इत्यादि क्षेत्र में गष्त सर्चिग पर रवाना हुआ था, जिस दौरान टीम को आमदई एल.जी.एस. के दो सदस्यों मनीराम कोर्राम पिता किटकु कोर्राम एवं रायधर कष्यप पिता ईष्वर कष्यप दोनों निवासी तुमड़ीवाल को धर दबोचने से सफलता मिली है। दोनों से पूछताछ करने पर क्षेत्र के कई नक्सल अपराधों एवं अन्य अपराधों में इनकी संलिप्तता की बात सामने आई है। नक्सली मनीराम 2011 के पहले से नक्सली संगठन में जुड़कर आमदई एल.जी.एस. के लिए कार्य कर रहा था, जिस पर थाना मर्दापाल जिला कोण्डागांव में सन् 2011 से अब तक एक दर्जन से भी अधिक मामले दर्ज हैं, वही रायधर कष्यप पहले जनमिलिषिया कमाण्डर था जो बाद में आमदई एल.जी.एस. सदस्य बनकर नक्सलियों के लिए काम करने लगा। पिछले साल पुलिस मुखबिरी के शक में हुई तुमड़ीवाल के ग्रामीण की हत्या में शामिल थे दोनों नक्सली। तुमड़ीवाल क्षेत्र में कई सालों से आतंक मचा रहे मनीराम का निम्नलिखित घटनाओं में शामिल होना भी पाया गयाः-

01. वर्ष 2011 में सषस्त्र नक्सलियों के साथ ग्रामीण के घर घुसकर लूटपाट एवं मारपीट करना।

02. वर्ष 2015 में सषस्त्र माओवादियों के साथ मतदान दल को धमकाकर मतपेटी एवं अन्य सामाग्री लूटने की घटना कारित करना।

03. वर्ष 2015 में ही सषस्त्र माओवादियों के साथ पुलिस पार्टी को जान से मारने एवं हथियार लूटने की नियत से अंधाधुध फयरिंग करना।

04. वर्ष 2016 में सषस्त्र माओवादियों के साथ ग्रामीणों को गांव से बेदखल करते हुए सामान की लूटपाट करना।

05. वर्ष 2016 में ही सषस्त्र माओवादियों के साथ ग्रामीण का रस्सी से गला घोट कर हत्या करना।

06. वर्ष 2017 में सषस्त्र माओवादियों के साथ घर अन्दर घुसकर ग्रामीण को गांव से बेदखल करते हुए सामान की लूटपाट करना।

07. वर्ष 2018 में सषस्त्र माओवादियों के साथ घर अन्दर घुसकर ग्रामीण के परिवार को मारपीट करते हुए गांव से बेदखल करना। 

08. वर्ष 2018 में ही सषस्त्र माओवादियों के साथ पुलिस पार्टी पर जान से मारने एवं हथियार लूटने की नियत से फायरिंग करना

09. वर्ष 2019 में सषस्त्र माओवादियों के साथ पुलिस की मुखबिरी के शक में आम ग्रामीण नीलाराम यादव की हत्या करना। 

10. वर्ष 2019 में ही सषस्त्र माओवादियों के साथ पुलिस पार्टी पर जान से मारने एवं हथियार लूटने की नियत से अंधाधुध फायरिंग करना 

पी.सुन्दरराज (भा.पु.से.) पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज जगदलपुर व संजीव शुक्ला (भा.पु.से.) उप पुलिस महानिरीक्षक उत्तर बस्तर रेंज कांकेर के कुषल मार्ग दर्षन एवं सुजीत कुमार (भा.पु.से.) पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव के प्रभावी रणनिती के परिणाम स्वरूप जिला बल, डी.आर.जी. बल एवं आई.टी.बी.पी. की कार्यवाही में दीपक मिश्र उप पुलिस अधीक्षक(आप्स) तथा निरीक्षक रमन उसेण्डी ने इस अभियान को जमीनी स्तर पर क्रियान्वित किया।  

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *