जिला स्तरीय वन्यप्राणी प्रकोष्ठ समिति की बैठक संपन्न वन्यप्राणियों के अवैध तस्करी तथा अवैध शिकार पर त्वरित कार्यवाही-कलेक्टर श्री एल्मा वन्यप्राणी पाये जाने वाले ईलाकांे में पानी की समुचित करें-कलेक्टर

जिला स्तरीय वन्यप्राणी प्रकोष्ठ समिति की बैठक संपन्न
वन्यप्राणियों के अवैध तस्करी तथा अवैध शिकार पर त्वरित कार्यवाही-कलेक्टर श्री एल्मा
वन्यप्राणी पाये जाने वाले ईलाकांे में पानी की समुचित करें-कलेक्टर
नारायणपपुर सबका संदेस न्यूज़ छत्तीसगढ़–जिला स्तरीय वन्यप्राणी प्रकोष्ठ समिति की बैठक आज कलेक्टर श्री पी.एस.एल्मा की अध्यक्षता में कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में संपन्न हुई। कलेक्टर ने जिले में वन्यप्राणियों के अवैध तस्करी तथा अवैध शिकार के त्वरित कार्यवाही करने के साथ ही उनके प्रभावी नियंत्रण के लिए कार्ययोजना बनाने पर बल दिया तथा समस्त कार्यवाही से मुख्यालय को भी अवगत कराने पर निर्णय हुआ। बैठक में जिले के संदिग्ध शिकारियों के साथ ही वन्य प्राणी तस्करों, वन्यप्राणी के अवैध व्यापार करने वाले लोगों पर भी समुचित नजर रख दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने को कहा। उन्होंने वन्यप्राणियों के ईलाके में ग्रामवासियों को अतिक्रमण नहीं किये जाने के संबंध में भी समझाईश देने की बात कही और लोगों को इसके लिए जागरूक करने को कहा। व्यापक पचार-प्रसार करने की बात कही। कलेक्टर ने हर तीन माह में बैठक आयोजित करने के निर्देश दिये। 
बैठक में सहकारी वन्य प्राणियों के भोजन की पर्याप्त व्यवस्था जैसे फल, फूल, कांदा, भाजी निर्णय पर भी चर्चा हुई ताकि ऐसे वन्यप्राणी रिहायसी ईलाकों में प्रवेश न कर सके। इसके साथ ही वन्यप्राणी पाये जाने वाले ईलाकांे में पानी की समुचित व्यवस्था के लिए चेकडेम, तालाब निर्माण, झरिया, एनीकट तैयार कराने एवं प्रस्ताव तैयार करने पर भी सहमति बनी। 
वनमंडलाधिकारी श्री डी.के.एस. चौहान बताया कि माह जनवरी 2019 से दिसम्बर 2019 तक वन्य प्राणी संरक्षण एवं संवर्धन के तहत् शासन द्वारा पशुहानि, जनहानि, जनघायल की स्थिति में अब तक 18 प्रकरणों में 23 लाख रूपये का वनमंडल नारायणपुर द्वारा भुगतान किया जा चुका है। 
विज्ञापन समाचार के लिए सपर्क करे-9425569117/7580804100

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *