पुलिस को पत्रकार से दुर्व्यवहार पड़ा महंगा-3 सस्पेंड

सबका संदेश भारत छत्तीसगढ़ बेमेतरा से

छत्तीसगढ़ सरकार पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर काफी गंभीर है और पत्रकार सुरक्षा कानून का मसौदा खींच रही है वहीं दूसरी ओर राज्य के कृषि एवं जल संसाधन मंत्री श्री रविन्द्र चौबे के विधानसभा क्षेत्र साजा में पदस्थ पुलिस पत्रकारों को पीट रही हैं।

बेमेतरा जिले के साजा थाने परिसर में फैली शराब की बोतलों का वीडियो बना रहे निजी चैनल के पत्रकार योगेश सिंह ठाकुर की पुलिस वालों ने पिटाई कर दी तथा उसके साथ दुव्यवहार करते हुए गाली-गलौज की 
घटना सामने आने के बाद गुस्साए पत्रकार साजा थाने का घेराव करते हुए धरने पर बैठे हुए है, और कार्यवाही करने की मांग कर रहे हैं। पत्रकार योगेश के साथ मारपीट करते हुए पुलिसकर्मियों ने उसके कपड़े तक फाड़ दिए है। समाचार कवरेज कर रहे पत्रकार से इस दुर्व्यवहार को लेकर क्षेत्र के साथी पत्रकारों में भी काफी आक्रोश है,पत्रकार ने आरोप लगाया है कि साजा थाने के एएसआई डीएन सिंह, प्रधान आरक्षक रघुराज यदु समेत तीन पुलिसकर्मियों ने उसके साथ मारपीट की है। उसके अलावा गाली गलौज भी की पीडि़त पत्रकार योगेश सिंह ठाकुर ने बताया कि समाचार कवरेज के दौरान थाना परिसर में शराब की बोतलें फैली हुई थी। जिसका वीडियो बनाकर टीआई से वर्जन के लिए रूका हुआ था। इतने में ही एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मियों ने उसका मोबाइल छीनकर वीडियो फोटो फोन से डिलीट कर दिया। उसके बाद मारपीट की और लॉकअप में भी बंद दिया था। मामले में पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर अंचल के पत्रकारगण वहीं पर धरना पर बैठे हुए हैं। समाचार लिखे जाने तक विभाग के कोई भी बड़े अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे है।

वीडियो देखें

पुलिस अधिक्छक ने जो तत्काल कार्यवाही करते हुए दोषि पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही की वह सराहनीय है

 

अभिताब नामदेव (सम्पदाक-भारत सरकार)7580804100

राष्ट्रीय पार्षद नई दिल्ली  व

जिलाध्यक्ष श्रमजीवी पत्रकार संघ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *