छत्तीसगढ़ के इस मेडिकल कॉलेज में नहीं मिला स्ट्रेचर, गोद में ढोकर दिव्यांग मरीज को पहुंचाना पड़ा आईसीयू में

सबका संदेश न्यूज छत्तीसगढ़ अंबिकापुर- प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री के शहर में मेडिकल कॉलेज अस्पताल का बुरा हाल है। यहां बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं न मिलने पर मरीज बेहाल हंै। मेडिकल कॉलेज अस्पताल में स्ट्रेचर व व्हील चेयर मरीजों को नहीं मिल रहा है। इससे मरीज व उनके परिजन को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

सोमवार की दोपहर 12 बजे एक मरीज एंबुलेंस से मेडिकल कालेज पहुंचा। मरीज के परिजन एंबुलेंस से उतर कर स्टे्रचर के लिए ओपीडी गए, लेकिन ओपीडी में एक भी स्ट्रेचर नहीं मिला। इस दौरान परिजन मरीज को गोद में लेकर चिकित्सक कक्ष पहुंचे। इसके बाद इसी हालत में उसे आईसीयू में भेजा गया।

गौरतलब है कि वाड्रफनगर थाना क्षेत्र के बसंतपुर निवासी 20 वर्षीय गणेश अगरिया पिता सोहर अगरिया दिव्यांग है। रविवार शाम से उसकी तबियत खराब हो गई। उसकी आवाज बंद हो गई और वह खून की उल्टी कर रहा था। परिजन ने उसे इलाज के लिए वाड्रफनगर अस्पताल में भर्ती कराया।

यहां चिकित्सकों ने उसकी स्थिति गंभीर देखते हुए प्राथमिक उपचार कर उसे बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए अंबिकापुर रेफर कर दिया। परिजन बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की उम्मीद लिए संजीवनी 108 से मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे।

यहां पहुंचते ही परिजन का बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की जगह परेशानियों से सामना हुआ। परिजन एंबुलेंस से उतर कर स्ट्रेचर खोजने लगे। लेकिन अस्पताल में कहीं पर स्ट्रेचर नहीं मिलने पर दिव्यांग मरीज को कंधे पर लेकर चिकित्सक कक्ष पहुंचे।

 

 

 

 

विज्ञापन समाचार हेतु सपर्क करे-9993199117/9425569117

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *