मोदी सरकार ने पैथोलॉजी पर कसा शिकंजा

बीमारी की जांच की मनमानी कीमत नहीं वसूल सकेंगे पैथ लैब, मोदी सरकार ने उठाया बड़ा कदम
जिस तरीके से सरकार बेहद जरूरी दवाओं की कीमत तय करती है वैसे ही अब बीमारी की जरूरी जांच की कीमत भी तय की जाएगी. सरकार ने नेशनल एसेंशियल डायग्नोस्टिक लिस्ट का ड्राफ्ट जारी कर दिया है.
डेंगू, मलेरिया और हेपेटाइटिस जैसी बीमारियों की जांच में पैथ लैब वाले मोटा पैसा वसूलते है. इन सब पर रोक लगाने के लिए सरकार नया प्लान लाई है. जिस तरीके से सरकार बेहद जरूरी दवाओं की कीमत तय करती है वैसे ही अब जरूरी जांच की कीमत भी तय की जाएगी. इसकी तरफ सरकार ने पहला कदम उठा भी लिया है. आपको बता दें कि सरकार ने नेशनल एसेंशियल डायग्नोस्टिक लिस्ट का ड्राफ्ट जारी कर दिया है. इस ड्राफ्ट में 31 जनवरी तक सभी पक्षों से सुझाव मांगा गया है.
क्या है सरकार का नया प्लान
>> पैथ लैब अब बीमारी की जांच की मनमानी कीमत नहीं वसूल सकेंगे.
>> बेहद जरूरी जांच की अधिकतम कीमत सरकार तय करेगी.
>> सरकारी कीमत से ज्यादा वसूलने पर जुर्माना लगेगा.
>> जीवनरक्षक दवाओं के तर्ज पर जरूरी जांच की भी लिस्ट तैयार
>> नेशनल एसेंशियल डायग्नोस्टिक लिस्ट का ड्राफ्ट जारी
>> 31 जनवरी तक सभी पक्षों से सुझाव मांगा गया है.
>> सरकारी अस्पतालों में आवश्यक जांच की सुविधा रखना भी जरूरी किया जाएगा.
>> सरकारी अस्पतालों में जांच की सुविधा नहीं रहने पर बाहर से जांच का खर्च सरकार उठाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *