सॉरी मम्मी-पापा मैं आपकी अच्छी बेटी नहीं बन पाई- ये आखिरी लफ्ज़ थे

सबका संदेश न्यूज़

“सॉरी मम्मी-पापा मैं आपकी अच्छी बेटी नहीं बन पाई” ये आखिरी लफ्ज़ थे नर्सिंग स्टूडेंट सीमंत के। जब तक घरवाले उसकी बात समझ पाते वो सबसे दूर निकल चुकी थी।

पुलिस के अनुसार चिंतामणि खूंटे उर्दना बटालियन में सीएफ कंपनी के सुबेदार (प्लाटून कमांडर) हैं। चिंतामणि की बेटी सीमंत खूंटे (22) बटालियन में अपने परिवार के साथ रह कर पहाड़ मंदिर स्थित नर्सिंग कॉलेज में सेकण्ड ईयर की पढ़ाई कर रही थी। 12 दिसंबर को सीमंत अपने घर से स्कूटी लेकर निकली थी। लेकिन उसके बाद घर नहीं लौटी। काफी खोजबीन के बाद भी सीमंत का कुछ पता नहीं चलने पर परिजनों ने घटना की शिकायत कोतवाली थाने में की। जहां पुलिस ने गुमशुदगी का अपराध दर्ज कर उसकी खोजबीन कर रही थी। इस बीच पुलिस को उसकी लाश मिली।

कमांडर की 22 वर्षीय बेटी ने केलो नदी में कूद कर अपनी जान दे दी। पुलिस के अनुसार मृतिका ने अपने सुसाइट नोट में लिखा है कि सॉरी मम्मी-पापा मैं आपकी अच्छी बेटी नहीं बन पाई। घटना की सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। वहीं शव को पीएम के लिए भिजवा दिया गया है। मामले की विवेचना की जा रही है।

डैम के पास मिला शव
17 दिसंबर को जूटमिल पुलिस को सूचना मिली कि बोरोडीपा स्थित केलो नदी में डैम के नीचे एक युवती की लाश पानी की सतह पर तैर रही है। इसके बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव की शिनाख्ती की तो पता चला कि यह प्लाटून कमांडर की बेटी है, जो कुछ दिनों से लापता है। पुलिस को वहीं पुल के पास ही उसकी स्कूटी भी मिली। पुलिस मामले में मर्ग कायम करते हुए शव को पीएम के लिए भिजवा दिया है। वहीं इस मामले में मर्ग कायम भी कर लिया गया है। पुलिस मामले में पता लगाने के लिए संबंधितों से पूछताछ कर रही है।

युवती के पास से पुलिस को मिला सुसाइट नोट
पुलिस को युवती के पास से एक सुसाइट नोट मिला है। जिसमें उसने अपने परिजनों को सॉरी कहा है। ऐसे में पुलिस इसे आत्महत्या मान रही है। लेकिन इस मामले में यह रहस्य छिपा हुआ है कि आखिर युवती ने आत्महत्या क्यों की। फिलहाल यह जांच का विषय है, और पुलिस जांच करने की बात कही रही है।

-उर्दना पुलिस लाइन में पदस्थ सीएफ कंपनी के सुबेदार की 22 वर्षीय बेटी ने अज्ञात कारणों से केलो नदी में कूद कर आत्महत्या कर ली है। हमें युवती के पास से एक सुसाइट नोट मिला है। जिसमें उसने अपने परिजनों से माफी मांगी है। इस मामले की जांच की जा रही है- डीके मार्कण्डेय, कोतवाली टीआई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *